सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सेवानिवृत्ति के पश्चात गतिविधियां- प्रतिदिन अधिकतम पाने के सूत्र

सेवानिवृत्ति के पश्चात गतिविधियां- प्रतिदिन अधिकतम पाने के सूत्र

कल्पना कीजिए कि आप अलार्म घड़ी की आवाज सुन कर सुबह रात की नींद से उठते हैं और तभी आपको ख्याल आता है कि आज तो कहीं नहीं जाना है। सेवानिवृत्ति के बाद का पहला दिन जहां बहुत आश्चर्य वाला होता है वहीं यह दिन दुविधा का भी होता है। सुबह 4 बजे उठने की आदत तो अब अतीत की घटना हो गई, अब आप सवाल कर सकते हैं कि आगे क्या ? यहां सेवानिवृत्ति के बाद प्रतिदिन कुछ अधिक पाने या करने के सूत्र वाक्य हैं – लीक न बनने दें : कुछ ही दिनों में आप एक नई तरह की आजादी के अभ्यस्त हो जाओगे। सूर्योदय के समय न उठ कर बिस्तर पर अंगड़ाइयां कम से कम पहले एक सप्ताह तो बहुत आकर्षक रहेगा। इसके बाद,एक सूची बनाइए उन कामों की जो आप हमेशा से करना चाहते थे, ये काम कुछ भी हो सकते हैं, लेकिन ये आपको सुबह जल्दी उठाने और आपको घर से बाहर निकल कर कुछ करने का मादा देंगे। व्यायाम और पौष्टिक आहार : अब आप सेवानिवृत्त हैं और अ‍ब आप कुछ व्यायाम करने की व नियमानुसार आहार करने का मन बना ही लीजिए, जो पहले आप अनियमित रूप से करते रहें हैं उसे नियमित करने का संकल्…

सेवानिवृत्ति होने पर स्वास्थ्य/स्वास्थ्यकारक सेवानिवृत्ति

सेवानिवृत्ति होने पर स्वास्थ्य/स्वास्थ्यकारक सेवानिवृत्ति

सामान्यत: सेवानिवृत्ति क्रियाशील कार्यालयी जिंदगी से सापेक्षता धीमी गति का घोषित संक्रमण दौर है। यह स्वत: कम तनावों, मानसिक और शारीरिक क्रियाओं वाला समय है,इसलिए शरीर को भी कम कैलोरी की जरूरत होती है। कम हुई क्रियाएं यदि वैकल्पिक गतिविधियों से बदली न जाएं और उबाऊ जिंदगी से बचने के लिए रंगरली स्वरूप अधिक खाना शुरू हो जाए तो परिणामस्वरूप मोटापा बढ़ेगा और इससे तात्कालिक तथा दीर्घ-अवधि की स्वास्थ्य संबंधी हानियां होंगी और व्यक्ति के अच्छेपन का नुकसान होगा। लम्बे समय तक स्वस्थ और आत्मनिर्भर रहने के लिए सावधानीपूर्वक लिया गया आहार आवश्यक है, यह तब और भी जरूरी हो जाता है जबकि आपकी शारीरिक गतिविधियां कम हो रही हों। लम्बे समय से चली आ रही चिकित्सीय समस्याएं रुग्ण स्वास्थ्य के लिए तब और भी अधिक भागीदार बन जाती हैं जबकि सेवानिवृत्ति की निष्क्रियता हो। चूंकि शारीरिक गतिविधियां कम होने से शरीर की फालतू कैलोरी का उपयोग नहीं हो पाता, इसलिए एक अच्छी सेवानिवृत्त जिंदगी को बनाए रखने के लिए आहार पर नियंत्रण प्राथमिक केंद्रबिंदु होगा। इस संबंध में …

सेवानिवृत्त होने पर कैसे समायोजन करें?

सेवानिवृत्त होने पर कैसे समायोजन करें?

जीवन का उतार होते हुए भी हम सेवानिवृत्ति की खुशियों को देखते हैं,सेवानिवृत्त होना जीवन का एक महत्वपूर्ण परिवर्तन है। शोध बताता है कि बहुत से लोग संक्रमण के दौरान संघर्ष करते हैं। आप अपनी जिंदगी में क्या करें कि इस बदलाव को सकारात्मक बनाया जा सके? सेवानिवृत्ति को एक महत्वपूर्ण जीवन परिवर्तन के रूप में जानें। हम सेवानिवृत्ति के बारे में, इसके स्वप्नलोक के बारे में बहुत कुछ सुनते हैं कि बहुत से लोग दिन प्रति दिन की जिंदगी के लिए तैयार नहीं होते। पहली चीज जो आप को समझनी है वह यह है कि सेवानिवृत्ति कोई बढ़ाई गई छुटी नहीं है। यदि आप मानसिक तौर पर सेवानिवृत्ति को एक महत्वपूर्ण परिवर्तन के रूप में लेते हुए प्रयास करते हैं तो समायोजन आसान होगा। खाली रहने और काम करने के बीच में संतुलन बनाइए। यदि आपकी जिंदगी तनाव और व्यस्त कामों से भरी हुई है,तो ऐसे में वह दो अतियों के बीच डोलने की प्रवृत्ति अपना लेती है, या तो बहुत अ‍धिक काम या फिर कुछ भी नहीं करना। दोनों के बीच में संतुलन को साधो। सुनिश्चित करें कि आप इतने व्यस्त न हों कि आपके पास थोड़ा समय भी न हो। यह आपक…

सेवा निवृत्ति के लिए तैयारी कैसे करें ?

सेवा निवृत्ति के लिए तैयारी कैसे करें ?
कुछ ही लोग होंगे जो इस बात से सहमत नहीं होंगे कि सेवानिवृत्ति के लिए तैयारी महत्वपूर्ण है। वस्तुत: अधिकांश लोग सेवानिवृत्ति के लिए योजना बनाने को महत्वपूर्ण मानते हैं। यद्यपि, यह जानना कि इसके लिए क्या करना है, कैसे करना है और वस्तुत: इसे कैसे किया जाना है,ये तीन अलग-अलग पहलू हैं। शायद प्रत्येक व्यक्ति सेवानिवृत्ति की तैयारी अलग ढ़ंग से करता है। जो लोग सेवानिवृत्ति के नजदीक हैं, उनकी तैयारियां वित्तीय,सामाजिक और मनोवैज्ञानिक होंगी। जिनकी सेवानिवृत्ति को कुछ वर्ष बाकी हैं उनका ध्यान एकपक्षीय होगा और वह भी वित्तीय होगा। फिर भी,सेवानिवृत्ति भयाक्रांत न हो,इसके लिए जरूरी है कि आप जाने कि सेवानिवृत्ति के लिए किस तरह से तैयार हुआ जाए। 1)अपनी वित्तीय स्थिति का मूल्यांकन कीजिए यदि आपने पहले ही गंभीरता से सेवानिवृत्ति की तैयारी शुरु कर दी है, तो आपको अपनी सेवा-निवृत्ति की योजनाओं और अपनी संपूर्ण वित्तीय स्थिति की समीक्षा की जरूरत है। यदि आप कर्जदार हैं तो यह आपकी योजनाओं को प्रभावित करेगा। इससे पूर्व कि आप आगे की तैयारी करें,आपको अ…