शुक्रवार, 27 अगस्त 2010

सत्य और भ्रम

जानने से जो व्यर्थ हो जाए, वह भ्रम है । जानने से जो और भी सार्थक होने लगे, वह सत्य है । -ओशो

2 टिप्‍पणियां: