बुधवार, 9 सितंबर 2009

चेहरे पर चेहरे

जब दो व्यक्ति मिलते हैं
शारीरिक रूप से दो होते हैं
पर मानसिक रूप से छ: होते हैं
कैसे-
पहले व्यक्ति के तीन मानसिक चेहरे :
एक वह जो वह वास्तव में है
दूसरा वह जो वह स्वयं को समझता है
तीसरा वह जो दूसरा व्यक्ति पहले व्यक्ति के बारे में समझता है
इसी प्रकार तीन चेहरे दूसरे व्यक्ति के
हो गए न दो के छ:

2 टिप्‍पणियां:

  1. भारती जी,
    सदर प्रणाम,
    अरे वाह !! मेरे भी ३ चेहरे ?
    आपकी बातें निराली होती हैं....सबसे अलग..
    आपकी तबियत का सुन कर बुरा लगा.....लेकिन अब आप अच्छे हैं जान कर ख़ुशी हुई..
    और आपको वापस आया देख कर प्रसन्नता..
    अपना ख्याल रखियेगा..
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  2. अदा जी !

    प्रणाम ... मुझे नहीं लगता कि आप इतने चेहरे लेकर जीती हैं, नहीं तो आप इतनी संवेदनशील और बाल-ह्रदयी कैसे होती । कभी अवसर मिला तो विस्तार से इस बारे कुछ लिखूँगा ।

    पुन: धन्यवाद !

    उत्तर देंहटाएं